क्लस्टर ट्रेनिंग द्वारा प्रशिक्षित किया जा रहा 108,102 एम्बुलेंस चालकों को ।।

क्लस्टर ट्रेनिंग द्वारा प्रशिक्षित किया जा रहा 108,102 एम्बुलेंस चालकों को ।।

सड़क सुरक्षा नियम के तहत एंबुलेंस स्टाफ को यातायात के नियमों के बारे मे दी गई विस्तृत जानकारियां,

कालपी (जालौन ) सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कालपी में आयोजित क्लस्टर ट्रेनिंग द्वारा प्रशिक्षित किए जा रहे एंबुलेंस चालकों का प्रशिक्षण चल रहा है। लखनऊ से आए प्रशिक्षक रामकिशन व आशीष कुमार द्वारा उनको एंबुलेंस के रखरखाव के बारे में बताया जा रहा है मुख्य अतिथि के रूप में आए हुए एआरटीओ जालौन राजेश कुमार ने सड़क सुरक्षा नियम के तहत सभी एंबुलेंस चालकों को बताया गया कि सभी लोगों को हर 6 महीने में नेत्र परीक्षण कराना अवश्यक है। परीक्षण करवाने के कई लाभ है इससे हमारे रोड दुर्घटनाओं में भारी कमी आएगी गाड़ी को किस गति से चलाना है या गाड़ी चलाते वक्त सभी लोगों को सीट बेल्ट का उपयोग करना पहली प्राथमिकता बताई है किस हिसाब से हमको चौराहों में बड़ी सावधानी से निकलना है जिससे कि आगे होने वाली दुर्घटनाओं से बचा जा सके इसके बारे में विस्तृत रूप से बारीकियां बताईं एंबुलेंस चालकों के आरटीओ ऑफिस में लाइसेंस बनवाते समय किन कागजों की जरूरत पड़ती है व गाड़ी चलाते वक्त रास्ते में होने वाली कठिनाइयों के बारे में भी अवगत कराया। इस दौरान सरकारी एंबुलेंस के जिला प्रोग्राम मैनेजर संतोष विश्वकर्मा, सुनील यादव, प्रमोद अहिरवार आदि उपस्थित रहे।