चुनावी महासंग्राम, उत्तर प्रदेश दंगल से सोने लाल पटेल के कुनबे में सियासी वर्चस्व की जंगः पत्नी और दो बेटियां मैदान में, पर मूल अपना दल किसी के पास नहीं

0
13

चुनावी महासंग्राम, उत्तर प्रदेश दंगल से सोने लाल पटेल के कुनबे में सियासी वर्चस्व की जंगः पत्नी और दो बेटियां मैदान में, पर मूल अपना दल किसी के पास नहीं

राष्ट्रीय राजनीति में पिछड़ा वर्ग के दमदार नेता रहे अपना दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्व. सोनेलाल पटेल के निधन के वक्त पार्टी के वर्चस्व को लेकर उनके परिवार में ही जंग छिड़ गई। जिसके चलते इस समय मूल पार्टी किसी के पास नहीं रही। इसमें एक तरफ कृष्णा पटेल तो दूसरी अनुप्रिया पटेल खड़ी हैं।
सात चरणों में होने वाले यूपी विधानसभा चुनाव में चार चरण संपन्न हो चुके हैं। पांचवे चरण के लिए 27 फरवरी, रविवार को मतदान होगा। इस चरण 12 जिलों की 61 सीटों जिसमें प्रतापगढ़, कौशाम्बी, प्रयागराज, अमेठी, रायबरेली, बाराबंकी, अयोध्या, बहराइच, सुल्तानपुर, चित्रकूट, श्रावस्ती एवं गोण्डा शामिल हैं। यूपी चुनाव को लेकर अब जो भी चरण बचे हैं, उसमें सोने लाल पटेल के कुनबे की भी परीक्षा होनी है। दरअसल पांचवे चरण में अपना दल के प्रभाव वाली कई सीटें हैं। ऐसे में इस चरण से साफ हो जाएगा कि स्व. सोनेलाल के निधन के बाद पार्टी जिस तरह से उनकी पत्नी और बेटी अनुप्रिया पटेल के बीच वर्चस्व की जंग छिड़ी है, उसमें जनता किसके साथ है।

बता दें कि पटेल परिवार में चल रहे इस राजनीतिक जंग में मूल अपना दल मौजूदा समय में किसी के पास नहीं रह गया है। दरअसल मूल अपना दल विवादों में है। ऐसे में परिवारिक झगड़े में दो नए दल बन गए हैं। जिसमें एक अपना दल (सोनेलाल) का है। जिसका नेतृत्व सोनेलाल की बेटी व केंद्रीय राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल कर रही हैं।

वहीं उनकी पत्नी कृष्णा पटेल अपना दल (कमेरावादी) की राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। बता दें कि इस विधानसभा चुनाव में कृष्णा पटेल प्रतापगढ़ की सदर सीट से चुनावी मैदान में हैं। वहीं उनकी दूसरी बेटी पल्लवी पटेल सिराथू से सपा सिंबल पर योगी सरकार में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के खिलाफ चुनाव लड़ रही हैं।

बता दें कि जब सोनेलाल पटेल का निधन हुआ तो उस वक्त पार्टी पर आधिपत्य जमाने को लेकर परिवार में ही जंग छिड़ गई। जिसके चलते इस समय मूल पार्टी किसी के पास नहीं रही। नतीजा ये हुआ कि मां कृष्णा पटेल और बेटी अनुप्रिया पटेल दो खेमों की नेतृत्व करने लगीं। जिसमें कमेरावादी सपा के साथ गठबंधन में है तो वहीं अपना दल सोनेलाल भाजपा के साथ गठबंधन में है। विधानसभा चुनाव में भाजपा ने अनुप्रिया की अपना दल को गठबंधन में 17 सीटें दी हैं। इसमें सात सीटों (मानिकपुर, विश्वनाथगंज, सोरांव, प्रतापपुर, बारा, चायल और नानपारा) पर पांचवे चरण में वोटिंग होनी है। ऐसे में पांचवा चरण अनुप्रिया पटेल के लिए काफी अहम माना जा रहा है।

#चित्रकूट #जालौन #आन्या_एक्सप्रेस #बुन्देलखण्ड_दस्तक #ताजा_खबरें #न्यूज_उपडेट #उरई #झांसी #कानपुर #महोबा #हमीरपुर #डैली_उपडेट #ताजा_खबर