जगद्गुरु रामभद्राचार्य के उत्तराधिकारी पर दुराचार का आरोप, मुकदमा दर्ज

0
47

जगद्गुरु रामभद्राचार्य के उत्तराधिकारी पर दुराचार का आरोप, मुकदमा दर्ज

चित्रकूट / तीर्थ क्षेत्र के तुलसी पीठाधीश्वर जगद्गुरु रामभद्राचार्य के उत्तराधिकारी ने 13वर्षीय किशोर के साथ जबरजस्ती दुराचार किया। घटना की जानकारी देने पर जान से मारने की धमकी दी। पीड़ित की तहरीर पर मिर्जापुर जिले के लालगंज थाने में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच सुरु कर दिया है। थाना अध्यक्ष ने बताया कि पीड़ित का मेडिकल कराया जा रहा है। मिर्जापुर जिले के लालगंज थाना प्रभारी विजय कुमार चौरसिया ने बताया कि जौंनपुर जिले के बरसठी थाना अंतर्गत एक गांव के पिता ने मिर्जापुर जिले के लालगंज रविवार को थाने में दर्ज कराई रिपोर्ट में कहा कि उसका 13 वर्षीय पुत्र पिछले सात माह से चित्रकूट स्थित तुलसीपीठ कांच मंदिर जानकीकुंड में रहकर दीक्षा प्राप्त कर व्याकरण की शिक्षा ले रहा था। आचार्य रामचन्द्र दास उर्फ जय मिश्रा पुत्र सुशील मिश्रा ने पुत्र को व्याकरण की शिक्षा दिलाने के लिए प्रवेश दिलाया था। बीती आठ से चौदह फरवरी तक जानकीकुंज दुर्गा मंदिर तेंदुई लालगंज मिर्जापुर में कथा के दौरान पुत्र को साथ ले गया था। कथा के 13 फरवरी को रात्रिकालीन प्रसाद प्राप्त करने के पश्चात जय मिश्रा ने पुत्र को लगभग दस बजे कमरे बुलाया और अर्द्धनग्न होकर तेल मालिश के लिए कहा । इस पर जब पुत्र मालिश करने लगा तो आचार्य रामचन्द्र दास ने अश्लील हरकते किया। मना करने पर जबरन कपड़े उतार कर पिटाई कर जबरन अप्राकृतिक मैथुन किया। रिवाल्वर निकाल कर धमकाया कि यदि किसी को जानकारी दी तो गोली मार दूंगा। कथा समापन के बाद सभी लोग वापस तुलसीपीठ आ गए। पुत्र डरा सहमा रहने लगा। 18 फरवरी को जय मिश्रा ने व्हाटस एप पर काल कर कहा कि पुत्र को यहां से ले जाओ। अगर आश्रम में कुछ हो जाएगा तो उनकी कोई जिम्मेदारी नहीं होगी। 19 फरवरी को कथा के लिए सभी चले गए। बेटे को बस से उतार दिया। जय मिश्रा के इशारे पर पुत्र का मोबाइल ले लिया गया। 21 फरवरी को विश्व विद्यालय के एक कर्मचारी को बेटे ने पूरी घटना की जानकारी दी। इस पर वह उनके आवास आकर बेटे को साथ ले जाकर मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने आचार्य रामचन्द्र दास के खिलाफ धारा 377, 504, 506 पास्को एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी हैं ।

*रिपोर्ट – अन्नू मिश्रा चित्रकूट*
*मोबाइल – 9628113833*