न्याय का सबसे अच्छा व सरल तरीका है लोक अदालत- जिला जज

0
36

न्याय का सबसे अच्छा व सरल तरीका है लोक अदालत- जिला जज

– बैठक में न्यायिक अधिकारियों को दिए निर्देश

चित्रकूट ब्यूरो: उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के निदेर्शानुसार आगामी 14 मई को आयोजित होने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत के सफल आयोजन के सम्बंध में शुक्रवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष व जनपद न्यायाधीश राधेश्याम यादव ने न्यायिक अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित की। जिसमें जनपद न्यायाधीश ने कहा कि लोक अदालत सरल, सुलभ एवं सस्ते न्याय का सबसे अच्छा तरीका है।
बैठक में जनपद न्यायाधीश ने न्यायिक अधिकारियों से लोक अदालत में अधिक से अधिक वादों का निस्तारण सुलह-समझौते के आधार पर करने के लिए कहा। साथ ही पक्षकारों को जारी समन नोटिस के ससमय तामील होने को लेकर विशेष ध्यान देने के लिए निदेर्शित किया। उन्होंने कहा कि आपसी रजामंदी के आधार पर मुकदमों का निपटारा कराने से न किसी की जीत होती है और न ही किसी की हार होती है। इसमें दोनों ही पक्षकारों को शीघ्र न्याय मिल जाता है और बेवजह कचहरी के चक्कर नहीं काटने पड़ते तथा धन एवं समय की बचत होती है। बैठक में एडीजे सतीश चन्द्र द्विवेदी, एडीजे संजय के लाल, एडीजे दीप नारायण तिवारी, एडीजे सत्येंद्र पांडेय, एडीजे विनीत नारायण पांडेय, सीजेएम संजय कुमार, सिविल जज (सि.डि.) अरुण कुमार यादव, सिविल जज (सि.डि.) एफटीसी प्रवीण कुमार सिविल, सिविल जज वसुंधरा शमार्, ग्राम न्यायलय मानिकपुर न्यायाधिकारी ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह, जेएम संघमित्रा मौयर् मौजूद रहे। बैठक में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की पूणर्कालिक सचिव विदुषी मेहा ने भी जानकारी दी।

#बुन्देलखण्ड_दस्तक #आन्या_एक्सप्रेस
#चित्रकूट #जालौन   #ताजा_खबरें #न्यूज_उपडेट #उरई #झांसी #कानपुर #महोबा #हमीरपुर #डैली_उपडेट #ताजा_खबर #bundelkhandnews #bundelkhanddastak #बुंदेलखंडदस्तक