अयोध्या आने को आतुर है पूरी दुनिया, श्रीराजन्मभूमि मंदिर लोकार्पण से पूर्व होगी धर्मनगरी की भव्य सजावट- मुख्यमंत्री

0
50

अयोध्या आने को आतुर है पूरी दुनिया, श्रीराजन्मभूमि मंदिर लोकार्पण से पूर्व होगी धर्मनगरी की भव्य सजावट- मुख्यमंत्री

मा0 प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में त्रेतायुगीन वैभव के अनुरूप हो रहा अयोध्या का विकास- मुख्यमंत्री

श्रीराम जन्मभूमि मंदिर व श्रद्धालुओं की सुरक्षा सर्वोच्च प्राथमिकता- मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री का निर्देश, अगले एक माह में अयोध्या में तैनात हो उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल

श्रीराजन्मभूमि मंदिर की सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मियों का होगा विशेष प्रशिक्षण

अयोध्या भ्रमण से लौटे मुख्यमंत्री ने की उच्चस्तरीय बैठक, दिए आवश्यक दिशा निर्देश

अयोध्या नगर की स्वच्छता पर विशेष ध्यान, तैनात करें अतिरिक्त स्वच्छताकर्मी

अयोध्या में तैनात होगी पर्यटक पुलिस, तैनाती से पूर्व होगी विहैवरल काउंसिलिंग

उरई (जालौन) मा0 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने धर्मनगरी श्रीअयोध्याधाम में श्रीराजजन्मभूमि मंदिर के प्रस्तावित लोकार्पण के दृष्टिगत पूरे नगर को सजाने-संवारने के निर्देश दिए हैं। शनिवार को एकदिवसीय अयोध्या दौरे से लौटे मुख्यमंत्री ने रविवार को एक उच्च स्तरीय बैठक कर वहां संचालित अवस्थापना विकास संबंधी परियोजनाओं की समीक्षा की साथ ही श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के सुरक्षा प्रबंध की कार्ययोजना पर विमर्श करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
मा0 मुख्यमंत्री ने कहा कि अतिशीघ्र अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि मंदिर का लोकार्पण होना है। पूरी दुनिया की दृष्टि अयोध्या की ओर है। हर आस्थवान अयोध्या आने को आतुर है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के मार्गदर्शन में धर्मनगरी अयोध्या का विकास त्रेतायुगीन वैभव के अनुरूप किया जा रहा है।अयोध्या में पुरातन संस्कृति सभ्यता का संरक्षण के साथ-साथ भविष्य की जरूरतों को देखते हुए आधुनिक पैमाने के अनुसार सभी नगरीय सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए सरकार संकल्पित है। प्रधानमंत्री जी की भावनाओं के अनुरूप तैयार अयोध्या के समग्र विकास की हर परियोजना शासन की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा की श्रीरामजन्मभूमि मंदिर लोकार्पण से पूरी अवधपुरी को सजाया जाए। मठ-मंदिरों की रंगाई-पुताई कराई जाए। पूरे शहर में एक समान थीम पर फसाड लाइटिंग कराई जाए। नगर की गलियों-भीतरी मार्गों की सड़कों को बेहतर बनाया जाए। नगर में कहीं भी जलभराव न हो और नालियां ढंकी हुई हों।
मा0 मुख्यमंत्री ने कहा कि अयोध्या के मूल निवासियों के लगभग 100 गुना अधिक संख्या में श्रद्धालुओंध्पर्यटकों की उपस्थिति हो रही है। ऐसे में नगर विकास विभाग को स्वच्छता के लिए विशेष प्रबंध करने होंगे। अयोध्या में अतिरिक्त स्वच्छता कर्मियों की तैनाती की जाए। जन्मभूमि पथ, भक्ति पथ और राम पथ के निर्माण कार्य को यथाशीघ्र पूरा कराने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी ने कहा कि बहुउद्देशीय पार्किंग स्थल एवं दुकानों को जल्द से जल्द पूरा करने किया जाए, साथ ही, पेयजल, टॉयलेट, चेंजिंग रूम आदि की समुचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्ट्रीट वेंडर्स मुख्य मार्गों के किनारे बेतरतीब ढंग से दुकानें न लगाएं। हर एक स्ट्रीट वेंडर का पंजीयन जरूर किया जाए। नगर में संचालित अंडर ग्राउंड केबलिंग के कार्य को समयबद्ध ढंग से पूरा कराए जाने पर बल देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा की अयोध्या नगर निगम और विकास प्राधिकरण के निर्माणाधीन भवन का कार्य यथाशीघ्र पूरा किया जाए।
बैठक में श्रीराजन्मभूमि मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था की कार्ययोजना की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि श्रीराजन्मभूमि मंदिर और श्रद्धालुओं, पर्यटकों की सुरक्षा सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसके लिए सभी आवश्यक प्रयास कदम उठाते हुए चाक-चैबंद व्यवस्था बनाई जाए। अगले एक माह में उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल की उपस्थिति अयोध्या में सुनिश्चित करने के निर्देश देते हुए मुख्यमंत्री ने सुरक्षाकर्मियों के आवास, वर्दी, लॉजिस्टिक सपोर्ट के लिए तत्काल व्यवस्था करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने मंदिर की सुरक्षा में तैनात सुरक्षा में तैनात होने वाले सुरक्षाकर्मियों को विधिवत प्रशिक्षित करने की भी आवश्यकता जताई। उन्होंने कहा कि पुलिस महानिदेशक, प्रशिक्षण के स्तर से इन सुरक्षाकर्मियों के लिए कैप्सूल कोर्स तैयार किया जाए। देश-दुनिया से आने वाले श्रद्धालुओंध्पर्यटकों के सुखद प्रवास के लिए मुख्यमंत्री ने अयोध्या में पर्यटक पुलिस व यातायात पुलिस की बिहैवरल काउंसिलिंग कर तैनाती के निर्देश दिए।