प्रमुख सचिव सुभाष चन्द्र शर्मा ने दिव्यांगजनों हेतु संचालित संस्थाओं का किया निरीक्षण

0
93

गोरखपुर:- प्रदेश के प्रमुख सचिव, दिव्यांगजन सशक्तीकरण सुभाष चन्द्र शर्मा ने जनपद गोरखपुर में दिव्यांगजनों हेतु संचालित संस्थाओं का निरीक्षण किया गया। उन्होंने सर्वप्रथम बीआरडी मेडिकल कालेज के प्रागंण में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय द्वारा निर्माणाधीन केंद्रीय पुनर्वास केन्द्र, गोरखपुर का निरीक्षण किया गया। सीआरसी के निर्माणाधीन भवन की स्वीकृत लागत 23.26 करोड़ रुपये है जिसके सापेक्ष 18.86 करोड़ की धनराशि सीपीडब्लूडी को अवमुक्त हुई है। अवगत कराया गया कि कार्य की भौतिक प्रगति 95 प्रतिशत हो चुकी है। कार्यदायी संस्था द्वारा कार्य को पूर्ण कर 20 दिसम्बर 2023 तक भवन को हस्तगत कर देने का आश्वासन दिया गया। मौके पर फॉलसीलिंग का कार्य कराया जा रहा था इसके अतिरिक्त भवन के दिवारों पर ग्लास वर्क किया जा रहा था। कार्य की धीमी गति पर रोष व्यक्त करते हुये कार्य को तीव्र गति से करने के निर्देश दिये गये ।

इसके अतिरिक्त नार्मल कैम्पस गोरखपुर में निदेशक एवं संयुक्त निदेशक के साथ दिव्यांग विभाग अन्तर्गत संचालित मानसिक मंदित बच्चों के आश्रय गृह हेतु संचालित संस्था एमआर होम का भी निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान संस्था को सुदृढ करने हेतु विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया गया। नार्मल कैम्पस में अन्य नवनिर्मित भवन संकेत राजकीय मूक बधिर विद्यालय का भी निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान पायी गयी कमियों के सम्बन्ध में कार्यदायी संस्था को अवशेष कार्यों को यथाशीघ्र पूर्ण कराने के निर्देश दिये गये, जिससे कि नवनिर्मित भवन का हस्तगत कराते हुए विद्यालय संचालित किया जा सके ।

निरीक्षण के समय निदेशक, दिव्यांगजन सशक्तीकरण भूपेन्द्र एस चौधरी, संयुक्त निदेशक, दिव्यांगजन सशक्तीकरण अमित कुमार सिंह, सीआरसी के प्रशासनिक अधिकारी अनिल कुमार रावल उपस्थित रहें।