भारत निर्वाचन आयोग ने जनपद गोरखपुर में की तीसरी बैठक

0
86

गोरखपुर:- आगामी लोक सभा सामान्य निर्वाचन के दृष्टिगत भारत निर्वाचन आयोग के अधिकारियों द्वारा उत्तर प्रदेश के जिला निर्वाचन अधिकारियों के साथ मतदाता सूची के पुनरीक्षण संबंधी कार्यो की समीक्षा बैठक की जा रही है। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जनपद कानपुर नगर, वाराणसी, गोरखपुर, आगरा एवं मेरठ में 75 जनपदों के जिलाधिकारियों/जिला निर्वाचन अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करने के क्रम में बुधवार 20 सितम्बर, 2023 को जनपद गोरखपुर में तीसरी बैठक 16 जनपदों के जिला निर्वाचन अधिकारियों के साथ की गयी।

भारत निर्वाचन आयोग की टीम ने वरिष्ठ उप निर्वाचन आयुक्त धर्मेन्द्र शर्मा एवं नितेश व्यास की अध्यक्षता में गोरखपुर के आयुक्त सभागार में 16 जनपदों यथा गोरखपुर, देवरिया, कुशीनगर, महराजगंज, सिद्धार्थनगर, संतकबीर नगर, बस्ती, अम्बेडकर नगर, गोण्डा, बलरामपुर, सुलतानपुर, अयोध्या, बाराबंकी, बहराईच, श्रावस्ती तथा कौशाम्बी के जिलाधिकारियों/जिला निर्वाचन अधिकारियों के साथ बैठक कर आगामी लोक सभा निर्वाचन की तैयारियों के परिप्रेक्ष्य में मतदाता सूची की तैयारियों के संबंध में चर्चा की।

बैठक में जिलाधिकारियों/जिला निर्वाचन अधिकारियों को मतदाता सूची को शुद्ध बनाने हेतु अर्ह मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में दर्ज करने, मृत मतदाताओं के नाम मतदाता सूची से हटाने, ई0पी0 एवं जेण्डर रेशियो सुधारने के संबंध में निर्देश दिये गये। किसी भी पात्र मतदाता का नाम मतदाता सूची में दर्ज होने से वंचित न रह जाए, इसके लिए व्यापक स्तर पर प्रयास किये जाए। 18-19 आयु वर्ग के युवा मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में दर्ज कराने हेतु विश्वविद्यालयों, तकनीकी एवं मेडिकल कालेजों, आई0 टी0 आई0, पालीटेक्निक आदि शैक्षणिक संस्थाओं में विशेष कैम्प आयोजित करने के निर्देश दिये गये।

बैठक में जिलाधिकारियों/जिला निर्वाचन अधिकारियों को निर्देश दिये कि विगत लोकसभा व विधानसभा सामान्य निर्वाचन में कम मतदान प्रतिशत वाले बूथों को चिन्हित कर वहां मतदान प्रतिशत बढ़ाये जाने हेतु जागरूकता कार्यक्रम आयोजित कराये जायें। बैठक में यह भी निर्देश दिये गये कि राजनैतिक दलों के साथ निरन्तर बैठकें आयोजित कर मतदाता सूची को शुद्ध बनाने में उनके भी सुझाव ले लिये जाएं तथा उनके सुझावों का गुण-दोष के आधार पर परीक्षण कर कार्यान्वित करने के संबंध में भी कदम उठाये जाएं।

बैठक में भारत निर्वाचन आयोग के सचिव पवन दीवान एवं अवर सचिव प्रफुल्ल अवस्थी तथा मुख्य निर्वाचन अधिकारी, उत्तर प्रदेश नवदीप रिणवा के साथ अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी चन्द्रशेखर एवं कुमार विनीत, संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी मनीष शुक्ल द्वारा भी प्रतिभाग किया गया।